September 25, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

वीमेंस यूनिवर्सिटी में मनी दिनकर जयंती, राष्ट्रकवि का अनुसरण करने का लिया संकल्प

1 min read

जमशेदपुर : वीमेंस यूनीवर्सिटी में स्नात्तकोत्तर हिन्दी विभाग ने रामधारी सिंह दिनकर की जयंती मनाई। कुलपति प्रो. (डॉ.) अंजिला गुप्ता ने इस अवसर पर सबको शुभकामनाएं प्रेषित की। अपने शुभकामना संदेश में कुलपति ने कहा कि राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर जन-जन के कवि थे। संघर्षमय बचपन देखने वाले कविहृदय में मानवमात्र के लिए अद्वितीय करुणा थी। इसलिए उनकी कविताएं भी मानवता की प्रेरणा देती हैं। हमें आज के दिन राष्ट्रकवि जैसा सहृदयी राष्ट्रप्रेमी बनने का प्रण लेनी चाहिए।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से छात्र कल्याण अधिष्ठाता डॉ किश्वर आरा व मानविकी संकायाध्यक्ष डॉ सुधीर साहू उपस्थित थे। अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन व मार्ल्यापण के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। स्वागत संबोधन व विषय प्रवेश डॉ पुष्पा कुमारी ने किया। संगीत विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ सनातन दीप ने दिनकर जी की कविता पर गीत प्रस्तुत किया गया। पीजी हिन्दी की छात्रा पुष्पा कुमारी व सोहाना सदफ ने दिनकर जी पर वक्तव्य दिया। रिमी कुमारी और रुबी पैड़ा ने कविता पाठ प्रस्तुत किया। श्रुति आभा ने स्वरचित कविता का पाठ किया। डॉ सुधीर साहू ने कहा कि दिनकर जी अपने समय के सशक्त रचनाकार है। उन्होंने संस्कृति के चार अध्याय में हर युग का उल्लेख किया है। राष्ट्र भावना से प्रेरित उनकी कविताएं जनमानस के हृदय को उद्देलित करती हैं। डॉ किश्वर आरा ने कहा कि जब लोग संवेदनशील होंगे तो क्रांति की भावना भी उनके अंदर होगी। छात्राओं को उत्साहित करते हुए उन्होंने ऐसे महान व्यक्तित्व का अनुसरण करने को कहा। धन्यवाद ज्ञापन डॉ नूपुर अन्विता मिंज के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में वाणिज्य संकायाध्यक्ष डॉ दीपा शरण, डॉ त्रिपुरा झा, डॉ ममता लाल, मनीषा सिंह और विभिन्न संकायों के अन्य शिक्षक, शिक्षकेत्तर कर्मचारी व छात्राएं उपस्थित थी।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed