HomeधनबादDhanbadकोयले के कारोबार में वर्चस्व की लड़ाई में अमित की हत्या आपसी...

कोयले के कारोबार में वर्चस्व की लड़ाई में अमित की हत्या आपसी रंजिश का परिणाम : जांच जारी : सात नामजद पर गिरफ़्तारी एक भी नहीं

मिरर मीडिया : कोयले के कारोबार में वर्चस्व की लड़ाई में जीतपुर अस्पताल कालोनी निवासी 25 वर्षीय अमित कुमार सिंह की रविवार की रात गोली मारकर हत्या कर दी गई थी उस पर धारदार हथियार से भी वार किया गया हालांकि गोली लगने की पुष्टि नहीं हुई है।

वहीं इस हत्या की जांच अभी जारी है। जिसके सन्दर्भ में जोड़ापोखर थाना प्रभारी ने बताया कि अमित की हत्या आपसी रंजिश का परिणाम है। हत्या में तलवार या धारदार हथियार का प्रयोग किया गया है। गोली लगने की पुष्टि नहीं हुई है। घटना में मुहल्ले के कुछ लोगों के शामिल होने की आशंका है। जबकि आगे जांच की जा रही है।

गौरतलब है कि बीते रविवार की रात लगभग एक बजे जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के लक्ष्मी कालोनी में शिवमंदिर के पास हत्या की घटना को अंजाम दिया गया था। घटनास्थल से युवक की बाइक व दो जोड़ी चप्पल बरामद की गई। उसके पिता सेवानिवृत्तकर्मी अशोक सिंह ने सात को नामजद किया है।

खबर के अनुसार आरोपितों में जगदीश पासवान, विशाल नोनिया, शिवा, सोनकमल, जिशू सिंह, दो अन्य व 10 अज्ञात हैं। इस मामले में अबतक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। जबकि हत्या में किसी महिला के भी शामिल होने की आशंका जताई गई है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि भूलन बरारी पंखा घर के समीप एक अवैध खदान में खनन कराने को लेकर अमित और उसके साथियों के साथ लक्ष्मी कालोनी के एक अवैध कोयला खनन करने वाले गुट का पिछले कई दिनों से विवाद था जबकि विवाद में दोनों गुटों ने दहशत फैलाने के लिए दो बार हवाई फायरिंग भी की थी।

हालांकि इसके बाद उनमें समझौता हो गया। लेकिन रविवार की रात करीब 12.30 बजे मंदिर के समीप अपने साथियों के साथ पहले से अमित मौजूद था वहां दूसरे गुट का जगदीश अपने साथियों के साथ पहुंचा जहाँ पुराने मामले को लेकर फिर बहस और मारपीट होने लगी। और
जगदीश गुट के किसी सदस्य ने हवा में फायरिंग की। गोली चलते ही अमित के साथी फरार हो गए। उसके बाद जगदीश के साथियों ने अमित की हत्या कर दी।

फिलहाल पुलिस अभी कोई ठोस परिणाम तक नहीं पहुंची है। जांच के क्रम में पुलिस घटनास्थल के एक किलोमीटर के दायरे में लगे सीसीटीवी कैमरे से सबूत जुटाने में लगी है।

Uday Kumar Pandey
Uday Kumar Pandeyhttps://mirrormedia.co.in
मैं उदय कुमार पाण्डेय, मिरर मीडिया के न्यूज डेस्क पर कार्यरत हूँ।

Most Popular