February 24, 2024

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

बिहार अभिभावक महासंघ की जमुई जिला कमिटी का हुआ गठन : दिनेश बने जिलाध्यक्ष, सचिव चुने गए अमित कुमार

1 min read

मिरर मीडिया : आज दिनांक 03.09.2023 दिन रविवार को बिहार अभिभावक महासंघ द्वारा जमुई जिला कमिटी का चयन हेतु जमुई जिले के सर्वोदय आईटीआई परिसर में प्रथम बैठक आहूत की गई है।



बैठक, जमुई के.के.एम कॉलेज के निकट सर्वोदय ITI कॉलेज में 11 बजे पूर्वाह्न से शुरू की गई। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर बिहार अभिभावक महासंघ के महासचिव प्रमोद यादव, कार्यकारिणी सदस्य में विनय यादव कोषाध्यक्ष संदीप कुमार जमुई जिला के कार्यकारिणी सदस्य कमल किशोर सागर, मनीष कुमार केशरी सहित अन्य सदस्यगण सहित जमुई जिले के विभिन्न प्रखंडो से सैकड़ों अभिभावकगण उपस्थित हुए।

अभिभावकों एवं उनके बच्चों के हित में बेहतर कार्य उनकी सुरक्षा और संरक्षण को प्रतिबद्ध बिहार अभिभावक महासंघ जिलास्तर पर संगठन को मजबूत बनाने की दिशा और निजी स्कूलों की मनमानी के विरोध में लगातार कार्य करेगा।

बैठक की कार्यवाही 11 बजे पूर्वाह्न प्रारंभ हुई।
इस बाबत कई अभिभावकों ने अपनी समस्याओं से अवगत कराया जिसमें महिला अभिभावक ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया और अपने बच्चों से सम्बंधित समस्याओं को रखा।

वहीं अभिभावकों को सम्बोधित करते हुए बिहार अभिभावक महासंघ के महासचिव प्रमोद यादव ने कहा कि शुरू से ही नई चुनौतियों से जूझते हुए बिहार अभिभावक महासंघ यहाँ तक पहुंचा है। RTE पर उन्होंने कहा कि यह बच्चों के लिए एकदम निःशुल्क शिक्षा है आज 500 से अधिक बच्चें इसका लाभ लें रहें है और आगे भी हक़ के लिए यह संघ हमेशा आगे रहेगा।

जिला जमुई की कमिटी में अध्यक्ष दिनेश कुमार यादव, कार्यकारी अध्यक्ष रणवीर कुमार, सचिव अमित कुमार, कोषाध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा कार्यकारी सदस्य में झाझा से कमल किशोर सागर, मनीष कुमार केशरी एवं जमुई से रंजीत पासवान, अमित कुमार यादव, साधना कुमारी, पिंकी कुमारी एवं शुभांगी कुमारी को चयन किया गया। वहीं सर्वसम्मति से चयनित पदाधिकारी को बधाई देते हुए 3:30 में कार्यक्रम की समाप्ति की गई।

बता दें कि बिहार अभिभावक महासंघ का कार्यक्षेत्र संपूर्ण बिहार राज्य होगा जबकि इस संस्था का उद्देश्य

👉🏻अभिभावकों को भारतीय संविधान के द्वारा प्रदान की गई शक्तियों के प्रति जागरूक पैदा करना है।

👉🏻बिहार सरकार /सीबीएसई /ICSE द्वारा बनाए गए नियमों के प्रति अभिभावकों में जागरूकता पैदा करना तथा उसका अक्षरशः अनुपालन कराने का प्रयास करना है।

👉🏻राज्य के बच्चों को राज्य सरकार/सीबीएसई /ICSE एवं अन्य शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा सरल सुलभ एवं सस्ती शिक्षा सुनिश्चित कराने के लिए कार्य करते हुए उसे प्रभावी ढंग से उनके द्वारा बनाए ग़र या बनाए जाने वाले कानून को लागू कराने के लिए सक्षम प्राधिकार / पदाधिकारी या संस्थान को सहयोग प्रदान करना है।

👉🏻बच्चों को शिक्षित करने एवं उनके विकास के लिए राज्य / केंद्रीय सरकार के सक्षम प्राधिकार / पदाधिकारी या संस्थान का सहयोग सुनिश्चित कर उसे लागू कराने का प्रयास करना तथा बच्चों को स्कूल तक लाने / पहुंचाने का प्रयास करना।

👉🏻सरकारी तथा गैर सरकारी संस्थाओं को बच्चों के शिक्षा एवं विकास से जुड़े कार्यक्रम को लागू कराने में सहयोग करना, साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा का प्रचार प्रसार एवं शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 तथा इस क्रम में राज्य सरकार द्वारा बनाए गए नियमावली का अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए प्रयास कराना है।

👉🏻समय समय पर शिक्षा के विकास के लिए केंद्रीय सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा लाए गए या लाए जाने वाले अध्यादेश / नियमावली या अधिसूचना का अनुपालन सुनिश्चित कराने का प्रयास करना है।

👉🏻राज्य सरकार द्वारा स्थापित एवं संचालित सभी कोटि के शैक्षणिक संस्थान यथा विद्यालय, महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय में भी सम्बंधित प्रावधानों को लागू कराने तथा अभिभावकों एवं छात्रों के हितो की रक्षा करने का प्रयास करना है।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.