December 1, 2021

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

अभय सिंह पर जिला प्रशासन ने किया केस, दुर्गापूजा पर भोग वितरण के दौरान कोविड गाइडलाइन के उल्लंघन का आरोप, डीसी से हुई थी तीखी बहस

1 min read

जमशेदपुर : भाजपा नेता अभय सिंह पर भोग वितरण करने के मामले में केस कर दिया गया है। जिला प्रशासन ने यह मुकदमा किया है।  साकची थाने में तत्कालीन दंडाधिकारी राजकुमार मंडल की ओर से दो नवंबर को दर्ज कराए गए मामले में अभय सिंह समेत सात पर नामजद व 40 अज्ञात पर कोविड को लेकर जारी दिशा-निर्देश का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में काशीडीह निवासी अभय सिंह के अलावा जिन्हें नामजद बनाया गया है, उसमें मोनू सिंह (काशीडीह), शिवेंद्र सिंह उर्फ शिबू सिंह (कुलसी रोड, साकची), प्रमोद शुक्ला उर्फ बबलू पंडित (काशीडीह), सुरेंद्र शर्मा (काशीडीह), विजय चौधरी (गुरुद्वारा बस्ती, साकची) व उपेंद्र ठाकुर (काशीडीह) शामिल हैं। बता दें कि दुर्गापूजा की महाअष्टमी पर भोग वितरण के दौरान उपायुक्त सूरज कुमार से अभय सिंह ने गर्मागर्म बहस की थी। दुर्गापूजा की महाअष्टमी के दिन काशीडीह पूजा पंडाल के पास स्थित शिव मंदिर से भोग वितरण किया जा रहा था। उस समय उपायुक्त सूरज कुमार वहां निरीक्षण करने पहुंचे थे। उन्होंने भोग वितरण रोक दिया था, जिसके बाद अभय सिंह ने उपायुक्त से तीखी बहस की थी। इसके बाद तमाम दुर्गापूजा कमेटियों ने जिला प्रशासन से माफी नहीं मांगने पर विसर्जन रोकने की चेतावनी दी थी। इस पर अपर जिला दंडाधिकारी नंदकिशोर लाल वहां गए और कमेटियों से बात करके मामले को शांत करा दिया था। अगले दिन सभी कमेटियों ने प्रतिमा विसर्जन कर दिया, लेकिन करीब एक माह बाद इस बात इस मामले में जिला प्रशासन द्वारा केस दर्ज कराने की बात सामने आई है।

इस पर अभय सिंह ने कहा कि इस पर अभय सिंह ने कहा कि उन्हें मंगलवार को केस की प्रति मिली है। दर्ज शिकायत में राजकुमार मंडल ने लिखा है कि मैं 13 अक्टूबर को काशीडीह स्थित ठाकुर प्यारा सिंह धुरंधर सिंह के दुर्गापूजा में मजिस्ट्रेट के रूप में प्रतिनियुक्त था। उस दिन आरोपितों द्वारा भोग वितरण किया जा रहा था। बिना मास्क, हैंड ग्लब्स एवं बिना शारीरिक दूरी का पालन किए भोग वितरण किया जा रहा था। उस समय झारखंड सरकार द्वारा इस तरह का आयोजन प्रतिबंधित था। विधि-व्यवस्था में व्यस्त रहने की वजह से आवेदन देने में विलंब हुआ है। उन्‍होनें कहा कि जिला प्रशासन विगत दुर्गापूजा में हुए भोग वितरण को लेकर बदले की भावना में उतर गई है। सारे विवादों का पटाक्षेप होने और समझौता होने के बाद अब बदले की भावना से भोग वितरण में कोविड नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दायर किया गया है। यह हिंदू संस्कृति व संस्कार के पीठ में छुरा घोंपने की तैयारी है। अभय सिंह ने कहा कि हम सारे लोगों से विचार-विमर्श करके आंदोलन की तैयारी करेंगे। बड़े अधिकारियों-पदाधिकारी से मिलकर आंदोलन की रूपरेखा तैयार करेंगे। सारे साधु-संतों के बीच में हमारे कार्यकर्ता जाएंगे, सब को जगाएंगे। सारे पूजा पंडाल कमेटी के लोग, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, राष्ट्रीय संघ सेवक संघ,भारतीय जनता पार्टी और उससे संबंधित विचारधारा वालों के साथ संपर्क स्थापित कर आगामी बृहस्पतिवार को संवाददाता सम्मेलन कर जमशेदपुर की जनता को इस विरोध हिंदू विरोधी मानसिकता वाले जिला प्रशासन व मंत्री के विरुद्ध आंदोलन का बिगुल फूंकेंगे।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *