January 27, 2023

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

ट्रांसपोर्टर दिलीप महतो रहस्यमय ढंग से लापता, विरोध में एनएच 33 को दो घंटे किया जाम, पुलिस के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने हटाया जाम

1 min read

जमशेदपुर : सरायकेला खरसावां जिला अंतर्गत चांडिल थाना क्षेत्र के समाजसेवी सह ट्रांसपोर्ट व्यवसायी बिरीगोड़ा निवासी दिलीप महतो मंगलवार दोपहर से रहस्यमय तरीके से लापता है। उनकी स्कार्पियो एनएच किनारे स्थित एक होटल के सामने मिला है। वहीं मंगलवार दोपहर से ही उनका मोबाइल स्विच ऑफ आ रहा है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है। परिवार के लोग किसी अनहोनी को लेकर चिंतित हैं। उनका अपहरण होने का अंदेशा जताया जा रहा है। दिलीप महतो हाईवे वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष व ट्रांसपोर्टर हैं और सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भागीदारी भी निभाते हैं। फिलहाल वे अपने परिवार के साथ तमोलिया स्थित ब्रह्मानंद आशियाना सोसाइटी में रहते हैं। वे जिला परिषद का चुनाव लड़ चुके हैं। उनके रहस्यमयी तरीके से गायब होने से अफवाहों का बाजार गर्म है। मंगलवार को जैसे ही उनके लापता होने की सूचना मिली तबसे पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। चांडिल थाना प्रभारी के अलावा पुलिस निरीक्षक और अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने भी विभिन्न पहलुओं पर जांच कर रहे हैं।

चांडिल थाना में मामला दर्ज

लापता व्यवसायी दिलीप महतो के भाई ने चांडिल थाना में उनके रहस्यमय तरीके से लापता होने के बाद प्राथमिकी दर्ज कराया है। इस संबंध में जानकारी देते हुए चांडिल थाना प्रभारी ने बताया कि प्राथमिकी में उनके अपहरण किए जाने की आशंका जताई गई है। पुलिस मामले की गहराई से जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि अनुसंधान के दौरान विभिन्न पहलुओं को जोड़ते हुए पुलिस जांच कर रही है। जल्द ही मामले का पटाक्षेप कर लिया जाएगा।

उग्र ग्रामीण व उनके समर्थको ने एन एच 33 पर टायर जलाकर किया विरोध

उग्र ग्रामीणों ने बुधवार सुबह करीब 11 बजे प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की तथा हाइवे पर टायर जलाकर विरोध किया। बता दें की दिलीप महतो मंगलवार की दोपहर के बाद से लापता है तथा उसका मोबाइल स्विच ऑफ बता रहा है। आसनबनी के पास एनएच 33 स्थित माउंट व्यू होटल होटल के पास उसकी स्कॉर्पियो मिली है। लेकिन, 24 घंटे के बाद भी पुलिस दिलीप महतो का कोई सुराग नहीं ढुंढ पायी है। सड़क जाम के बाद एसडीपीओ संजय सिंह एवं थाना प्रभारी अजीत कुमार पहुंचे तथा ग्रामीणों को आश्वासन दिया। करीब दो घंटे बाद ग्रामीणों ने सड़क जाम हटाया। इधर, दिलीप महतो के बरामदगी को लेकर पुलिस रात से संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही तथा सीसीटीवी को खंगाल रही है। इधर समाजसेवी खगेन महतो ने कहा कि राज्य में जंगल राज कायम हो गया है। करीब 24 घंटे बीतने को है परंतु पुलिस दिलीप महतो का सुराग ढुंढने में नाकाम रही। पुलिस 24 घंटे बाद भी सिर्फ सीसीटीवी कैमरा को ही खंगाल रही है। दिनदहाड़े लोग लापता हो रहे है,अपहरण की आशंका जतायी जा रही है। अपराधियों के हौंसले बुलंद है। पुलिस जल्द से जल्द दिलीप महतो को सही सलामत ढुंढकर लायें। एसडीपीओ संजय सिंह ने बताया कि पुलिस टेक्निकल सेल की मदद ले रही है तथा मामले की अनुसंधान में जुटी हुई है।

दोपहर 1.55 बजे में दिलीप महतो का स्कॉर्पियो लगा था होटल में

सीसीटीवी कैमरा फुटेज के मुताबिक मंगलवार की दोपहर 1.55 बजे दिलीप महतो का स्कॉर्पियो आसनबनी होटल के पास होटल माउंट व्यू के पास लगा था। लेकिन, चालक दिलीप महतो के बजाये कोई दुसरा व्यक्ति था। थोड़ी देर बाद एक बाइक पीछे से आया और स्कॉर्पियो के पीछे खड़ा हो गया।

दो टीमो में बंट कर छापेमारी कर रही है पुलिस

कारोबारी दिलीप महतो के तलाश के लिए पुलिस दो अलग-अलग टीम में बंट कर छापेमारी कर रही है तथा दिलीप महतो के जुड़े कारोबार एवं लोगों से पूछताछ कर रही है। एक टीम में एसडीपीओ संजय सिंह एवं थाना प्रभारी अजीत कुमार एवं दुसरे टीम में पुलिस इंस्पेक्टर पास्कल टोप्पो एवं एसआई जितेन्द्र कुमार शामिल है। एसआई जितेन्द्र कुमार इस केस के आइओ है।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *