September 25, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

युक्तिकरण हेतु प्रकाशित सूची पर अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ धनबाद ने जताई आपत्ति : निर्देशित छात्र-शिक्षक अनुपात के अनुसार सूची में करें सुधार

1 min read

मिरर मीडिया : अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ धनबाद का एक प्रतिनिधि मण्डल आज जिलाध्यक्ष संजय कुमार के नेतृत्व में जिला शिक्षा अधीक्षक धनबाद से मिलकर युक्तिकरण हेतु प्रकाशित सूची पर आपत्ति दर्ज किया गया। संगठन की ओर से साफ शब्दों में कहा गया कि दिनांक 30 अगस्त 2022 को प्रकाशित सूची के आलोक में जिले के विद्यालयों से प्रकाशित सूची में दर्ज किया गया आपत्ति का निराकरण करने के पश्चात अंतरिम रूप से तैयार सूची का पहले प्रकाशन किया जाय ताकि सभी लोग सूची तैयार करने में अपनाई गई प्रावधान एवं संख्या का तुलनात्मक समीक्षा कर सकें साथ ही साथ अपने विद्यालय से दी गई आपत्ति का निराकरण हुआ या नहीं उसको देख सकें।

संगठन की ओर से सचिव, स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग की अध्यक्षता में दिनांक 17-18 अगस्त 2022 को संपन्न समीक्षा बैठक की कार्यवाही में स्पष्ट रूप से अंकित प्रावधान का अनुपालन करने का अनुरोध किया गया। ज्ञात हो कि छात्र शिक्षक अनुपात के आलोक में विद्यालय वार आंकलन हेतु प्रारंभिक विद्यालय (वर्ग 01से 08) में छात्र – शिक्षक अनुपात 1:30 रख कर ही सूची बनाने का निर्देश दिया गया था। जिले में तैयार सूची में इसका अनुपालन नहीं किया गया है इसलिए इसमें अपेक्षित सुधार कर आवश्यकता से अधिक शिक्षकों की सूची तैयार किया जाय।

विभागीय कार्यवाही में स्पष्ट रूप से विद्यालय में सबसे पहले पदस्थापित शिक्षक अर्थात First in First out के सिद्धांत का अनुपालन करने का निर्देश है लेकिन जिले में तैयार सूची में केवल सरकारी शिक्षक को ही शामिल किया गया है।आखिर सरकारी शिक्षक को ही किस परिस्थिति में बलि का बकरा बनाया जा रहा है।संगठन का स्पष्ट मानना है कि युक्तिकरण प्रक्रिया में शिक्षक/ सहायक अध्यापक सभी को शामिल किया जाय।

युक्तिकरण प्रक्रिया में यह ध्यान रखा जाए कि यह युक्तिकरण व्यवस्था को सुचारू से चलाने के लिए किया जा रहा है,इसलिए युक्तिकरण ने संकुल/प्रखण्ड में समायोजन नहीं होने की स्थिति में ही प्रखण्ड में स्थानांतरण किया जाय। संगठन के द्वारा उठाए गए बिंदुओं पर जिला शिक्षा अधीक्षक धनबाद के द्वारा सकारात्मक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया गया। संगठन इस आश्वासन के आलोक में युक्तिकरण प्रक्रिया में आवश्यक संशोधन नहीं होने की स्थिति में विवश होकर उपायुक्त, उप विकास आयुक्त एवं विधायक से मिलकर शिक्षक हित के पक्ष को रखने का कार्य करेगा। प्रतिनिधि मंडल में जिलाध्यक्ष संजय कुमार,राजकुमार वर्मा, विनय रंजन तिवारी, शंभू शरण अम्बष्ट, विजय कुमार आदि शामिल थे।  

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed