August 18, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

धनबाद में एयरपोर्ट नहीं मिलने का दर्द आप क्या जानो सांसद बाबू  : धनबादवासियों में रोष को देखते हुए एयरपोर्ट मांग को लेकर विमानन मंत्री सिंधिया के पास पहुंचे पीएन सिंह : एयरपोर्ट के लिए गिनाई खूबियां

1 min read

मिरर मीडिया : धनबाद में एयरपोर्ट नहीं मिलने का दर्द यहाँ की जनता वर्षो से झेल रही है। देवघर में मिला एयरपोर्ट मानो धनबाद के मुहं में आया निवाला छीनने जैसा था। हालांकि यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगा की जनप्रतिनिधि के अरुचिकर और सुस्त रवैये के कारण ही धनबाद को एयरपोर्ट मिलते मिलते नहीं मिला। वहीं
12 जुलाई को देवघर एयरपोर्ट के उद्घाटन के दौरान मंच से केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया की घोषणा के बाद और भी स्थिति साफ हो गई कि दूर दूर तक अभी धनबाद में एयरपोर्ट मिलने की संभावना भी नहीं दिखती है।

आपको बता दें कि सिंधिया ने घोषणा की थी कि झारखंड में जल्‍द तीन और नए एयरपोर्ट शुरू किए जाएंगे, बोकारो, जमशेदपुर और दुमका। इस दौरान उन्‍होंने धनबाद का नाम तक नहीं लिया था। इस वजह से अभी धनबाद के लोगों में अपने जनप्रतिनिधियों को लेकर खासा देखा जा रहा है। जिसके परिणामस्वरूप सोशल मीडिया में तरह तरह के मिम्स बनाकर ट्रोल किये जा रहें हैं।

वहीं लोगों के विरोध को देखते हुए सांसद पीएन सिंह ने केंद्रीय मंत्री से धनबाद को एयरपोर्ट देने की केंद्रीय नागर विमानन मंत्री से मिलकर गुहार लगाते हुए धनबाद को एयरपोर्ट देने की मांग रखी है। इस दौरान सांसद ने धनबाद में हवाई परिचालन शुरू किए जाने के सभी आवश्यक पारामीटर से मंत्री को अवगत कराया। सांसद ने सिंधिया को पत्र देकर कहा है कि धनबाद को देश की कोयला राजधानी कहा जाता है। यहां देश के कोयला कर्मचारियों के प्रोविडेंट फंड, डायरेक्टर जनरल माइन्स सेफ्टी का मुख्यालय है। देश के केंद्रीय खनन एंव इंधन अनुसंधान संस्थान के अलावा आईआईटी आईएसएम जैसे विश्व स्तरीय संस्थान हैं। साथ ही भारत कोकिंग कोल का मुख्यालय तथा काेयले की खानें हैं। सिंदरी में खाद कारखाना, डीवीसी का दो प्रोजेक्ट मैथन तथा पंचेत अवस्थित है, लेकिन हवाई सेवा नहीं होने के कारण धनबाद जिले के लोगों को परेशानी होती है।

सांसद ने कहा कि मंत्री ने जल्द ही शहर से हवाई उड़ान शुरू कराने का आश्वासन दिया है। सांसद ने कहा कि उन्होंने मंत्री को पूर्व में भी इस दिशा में अपने स्तर से कई बार याद दिलाया है। इसके अलावा अन्य मंत्रियों से मिलकर इस कार्य को तेज गति से पूरा करने पर जोर दिया था, लेकिन योजना पूरी करने में उड्डयन मंत्रालय द्वारा ज्यादा जोर देने की आवश्यकता है

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.