HomeराजनीतिBJP अध्यक्ष जेपी नड्डा का चिराग को NDA बैठक में शामिल होने...

BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा का चिराग को NDA बैठक में शामिल होने का न्योता : दोनों ही लोक जनशक्ति पार्टियां भाजपा के साथ

मिरर मीडिया : चुनाव के पहले बिहार में राजनीतिक पारा गर्म हो गया है। राजद के साथ जदयू और फिर सभी विपक्षी दल जबकि चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले NDA में एंट्री हो गई है। BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा ने चिराग पासवान को 18 जुलाई को दिल्ली में होने वाली NDA की बैठक में शामिल होने का न्योता भेजा है। इस बाबत मंगलवार शाम 5 बजे अशोका होटल में होने वाली इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे।

लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान भले NDA के साथ न रहे हों, लेकिन वो पार्टी के गठन के समय से ही लगातार NDA और BJP का समर्थन करते रहे हैं। NDA में उनकी पार्टी के शामिल होने की चर्चाएं भी काफी दिनों से चल रही थीं। चिराग प्रधानमंत्री मोदी के प्रशंसक हैं और वो कई मौकों पर खुद को उनका हनुमान भी बता चुके हैं। अब देखना होगा कि वो बिहार में जनता दल यूनाइटेड के NDA से दूर होने के बाद BJP को क्या और कितना फायदा पहुंचाते हैं।

इसी के साथ आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर बिहार में खुद को मजबूत करने की कवायद में जुटी बीजेपी सूबे में तमाम जातिगत समीकरण साध रही है। ऐसे में पासवान समाज को पार्टी से जोड़ने के लिए चिराग एक महत्वपूर्ण चेहरा हैं। यूं तो चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस का गुट पहले ही NDA के साथ जुड़ा हुआ है और पारस भी केंद्र में मंत्री हैं। लेकिन पशुपति पारस की तुलना में चिराग युवाओं और बिहार में काफी पॉपुलर हैं।

गौरतलब है कि पिछले लोकसभा चुनावों में लोक जन शक्ति पार्टी ने 6 सीटों पर जीत दर्ज की थी। रामविलास पासवान के निधन के बाद पार्टी दो धड़ों में टूट गई। पांच सांसद पशुपति पारस के पास गए और उन्हें केंद्र में मंत्री का बर्थ मिला। वहीं चिराग ने अलग होकर पिता की विरासत पर दावा ठोका।

अब जब NDA में चिराग की पार्टी की भी एंट्री हो गई है तो दोनों ही लोक जनशक्ति पार्टियां इसका हिस्सा बन गई हैं। चर्चा है कि बीजेपी चाहती है ये दोनों ही दल मिलकर चुनाव लड़ें ताकि सीटों का सही से बंटवारा हो सके और जातिगत समीकरण का पूरा लाभ NDA को मिले। जबकि बीजेपी आगामी चुनावों में 6 सीटें लोक जन शक्ति पार्टी को दे सकती है, जिनपर पिछले चुनावों में इस पार्टी ने जीत हासिल की थी।

फिलहाल तीन-तीन सीटें दोनों लोक जन शक्ति पार्टी को देने के फॉर्मुला निकल कर सामने आ रहा है। हालांकि चिराग पासवान की मांग अधिक है। किसे कितनी सीटें मिलेगी अब ये तो समय के साथ ही स्पष्ट हो पाएगा।

Uday Kumar Pandey
Uday Kumar Pandeyhttps://mirrormedia.co.in
मैं उदय कुमार पाण्डेय, मिरर मीडिया के न्यूज डेस्क पर कार्यरत हूँ।

Most Popular