August 18, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

SSLNT महिला कॉलेज परिसर में घुसकर ठेकेदार की गुंडागर्दी : गार्ड से हाथपाई कर कॉलेज परिसर में घुसे : महिला प्रोफेसर के साथ मारपीट की घटना को दिया अंजाम

1 min read

मिरर मीडिया : धनबाद के SSLNT महिला कॉलेज परिसर में घुसकर कॉलेज के परीक्षा नियंत्रक डाॅ. शोभा सरिता से मारपीट करने की घटना सामने आई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार को होनेवाली परीक्षा की तैयारी भी चल रही थी इसी बीच ठेकेदार संजय गुप्ता चार अन्य लोगों के साथ कालेज पहुंच गया। मेन गेट पर गार्ड ने रोकने की कोशिश की तो उसके साथ मारपीट कर स्कार्पियो (जेएच10 बीके 5308) और आल्टो (जेएच10एटी 9854) लेकर अंदर घुस गया। परीक्षा विभाग में भी गार्ड ने रोकने की कोशिश की तो उसके साथ मारपीट की। परीक्षा नियंत्रक डाॅ. शोभा सरिता के साथ हाथापाई करने लगे। अभद्र भाषा का प्रयोग कर परीक्षा नियंत्रक से मोबाइल छीन लिया। परीक्षा विभाग के गोपनीय कागजातों से भी छेड़छाड़ किया। इस दौरान बीच-बचाव करने आईं दूसरी महिला शिक्षकों के साथ अभद्रता की गई। कालेज कर्मचारियों के साथ भी गाली गलौज किया और धमकी दी।

वहीं एसएसएलएनटी महिला काॅलेज के एक कर्मचारी ने मोबाइल द्वारा घटना की जानकारी प्राचार्य को दी जिसके बाद प्राचार्य ने तुरंत पुलिस को खबर की। कुछ ही देर में पुलिस आ गई और हमलवारों को काॅलेज कैंपस से बाहर निकाला। कालेज प्राचार्य डाॅ. शर्मिला रानी ने इस मामले में ठेकेदार संजय गुप्ता समेत अन्य के खिलाफ सदर थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

इस बाबत काॅलेज की प्राचार्य डाॅ. शर्मिला रानी ने संजय व उसके साथियों के विरुद्ध सदर थाना में शिकायत की है। दरअसल बताया जा रहा है कि  घटना का कारण एक छात्रा का 70 हजार रुपये का मोबाइल गुम होना है। खबर के अनुसार परीक्षा में मोबाइल लाने की मनाही के बावजूद कुछ छात्रों द्वारा कॉलेज परिसर में मोबाइल लाया गया। इसी क्रम में एक छात्रा का कहना था कि वह 70 हजार का मोबाइल लेकर काॅलेज आई थी, जो गुम हो गया। उसने शिक्षकों से इसकी शिकायत भी की। शिक्षकों ने कहा कि मामले की जानकारी कल प्राचार्य को दे दे। इसके बाद वह चली गई।

हालांकि काॅलेज के सुरक्षा गार्ड से मारपीट करने से लेकर परीक्षा नियंत्रक से हाथापाई करने और अभद्र व्यवहार करने की पूरी घटना सीसीटीवी फुटेज में कैद हो चुकी है। प्राचार्य और भुक्तभोगी शिक्षकों का कहना है कि काॅलेज में हमला करने वालों के साथ वह छात्रा भी थी, जिसने मोबाइल गुम होने की शिकायत की थी। सीसीटीवी में उसकी मौजूदगी भी दिख रही है। हालांकि प्राचार्य ने पुलिस से की गई शिकायत में छात्रा के मौजूद रहने की बात नहीं कही है।

बहरहाल इस तरह की घटना से कॉलेज की सुरक्षा पर सवाल खड़ा होना लाज़मी है। क्यूंकि कॉलेज ठीक एसएसपी के निवास स्थान के सामने है जहाँ सुरक्षा की दृष्टिकोण से यह क्षेत्र और भी महत्वपूर्ण माना जा सकता है। वहीं कॉलेज में उपस्थित गॉर्ड के साथ मारपीट कर कॉलेज के परिसर में घुस जाना कॉलेज की सुरक्षा में सेंध मरना हो गया। वहीं अब देखना यहाँ है कि इस तरह की सुरक्षा चूक पर कॉलेज प्रबंधन एवं प्रशासन क्या कार्रवाई करती है साथ ही भविष्य में इस तरह की घटना ना घाटे इसके लिए सुरक्षा का बेहतर इंतजाम कैसे करती है ताकि कॉलेज परिसर में उपस्थित और राह रहे छात्राएं सहित सभी लोग सुरक्षित रहे।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.