May 26, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

बच्चों को सामाजिक उतरदायी बनाएगा थलीर प्रोजेक्ट, वायआई का लोयोला से एमओयू

1 min read

जमशेदपुर। बच्चों के समग्र विकास में महती भूमिका निभाने के लिए सीआईआई यंग इंडियंस ने शहर के प्रसिद्ध स्कूल जमशेदपुर लोयोला स्कूल बिष्टुपुर के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किया है। यह एमओयू थलीर प्रोजेक्ट को स्कूल में लागू करने को लेकर किया गया है। सीआईआई यंग इंडियंस का यह ऐसा प्रोजेक्ट है, जिसके जरिए स्कूली बच्चों को पढ़ाई के साथ साथ उनको शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक, आध्यात्मिक और सामाजिक रूप से विकसित होने में मदद करेगा। इस प्रोजेक्ट की प्राथमिकता स्कूली बच्चों का ऐसा पोषण करना है जिससे वे बड़े होकर ऐसे व्यक्ति के रूप में विकसित हों जो जीवन के लक्ष्य को समझता हो। उनमें सामाजिक बुद्धिमत्ता का विकास हो। समाज के प्रति वे उत्तरदाई बनें और समाज को संरक्षित, सुरक्षित करने में अपनी भूमिका सुनिश्चित करें। इसके लिए ही एमओयू कर स्कूलों को इस अभियान का भागीदार बनाया जा रहा है। इसके जरिए बच्चों के सोशल लीडर के रूप में भी तैयार किया जाएगा। इस अभियान के तहत स्कूलों में व्यक्तिगत सुरक्षा, सड़क सुरक्षा, पर्यावरण संरक्षण की जागरूकता लाया जाएगा। इसके लिए स्कूलों में वायआई की और से सेशन आयोजित किए जाएंगे, ताकि बच्चों को पता चले कि वे क्या कर सकते हैं और समाज में अपना क्या योगदान दे सकते हैं। वायआई का प्रयास है इस प्रोजेक्ट के सकारात्मक उद्देश्यों को स्कूल के सिलेबस में शामिल करने की। इसे स्कूल के शैक्षणिक कैलेंडर के साथ मिलाने की। इस अभियान का लक्ष्य ही है कि स्कूली बच्चों में सोशल इंटेलिजेंस विकसित करके उनमें सहानुभूति, सहयोग और परोपकारिता का पोषण किया जाए। बच्चों में सोशल इंटेलिजेंस (एसआई) को बढ़ावा देकर रिश्तों को सफलतापूर्वक बनाने की क्षमता विकसित की जा सकती है और इससे सामाजिक वातावरण में सकारात्मकता आएगी। थलीर प्रोजेक्ट के माध्यम से बच्चों को सहानुभूति, संयम, जागरूक बनाने की पहल की जा रही है। बच्चों में सामाजिक भावनात्मक बुद्धिमता को विकसित कर न सिर्फ कैरियर में सफलता मिलेगी बल्कि पढ़ाई और परिवार और जीवन में भी भी सकारात्मक परिणाम ले जा सकते हैं। इसके साथ ही इस प्रोजेक्ट के तहत स्कूलों में सेशन आयोजित कर बच्चों को यौन शोषण, बाल हिंसा व बाल मजदूरी को लेकर भी जागरूक किया जाएगा। इसी तरह पर्यावरण संरक्षण को लेकर पक्षियों को बचाने, जल संचय करने की जागरूकता भी उनमें लाई जाएगी। इसके अलावा सड़क सुरक्षा पर भी स्कूल में ही अवेयर किया जाएगा।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.