June 28, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

राज्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के तहत हर छूटे हुए सुयोग्य लाभुकों को पेंशन योजना का लाभ प्रदान करने के लिए चलाया जाएगा डोर टू डोर अभियान

1 min read

मिरर मीडिया : महिला, बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग, झारखंड, रांची के निर्णयानुसार दिव्यांगजनों एवं राज्य योजना के तहत संचालित स्वामी विवेकानंद निशक्त स्वावलंबन प्रोत्साहन योजना में छुटे हुए लाभुकों को भी सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ प्रदान करने के लिए डोर टू डोर अभियान चलाया जाएगा।

इस संबंध में सामाजिक सुरक्षा कोषांग के पदाधिकारी सह जिला योजना पदाधिकारी महेश भगत ने बताया कि सरकार ने राज्य सर्वजन पेंशन योजनाओं की पात्रता को सरल करते हुए राज्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के तहत हर सुयोग्य व्यक्ति, जिसे सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल रहा है, को लाभ देने का निर्णय लिया है।

एक अनुमान के अनुसार मतदाता सूची में अंकित उम्र के आधार पर 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले मतदाताओं की संख्या एवं वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त कर रहे लोगों की संख्या की जिलावार समीक्षा राज्य सरकार के स्तर पर की गई है। समीक्षा के बाद जिले में वृद्धजनों की अनुमानित संख्या 1,42,045 है। जो राज्य सर्वजन पेंशन योजना के तहत आच्छादित नहीं है।

वृद्धजनों को पेंशन का लाभ प्रदान करने के लिए घर-घर सर्वेक्षण करने के लिए एक विशेष अभियान शुरू  किया गया है। अभियान 8 जुलाई 2022 तक चलेगा।

अभियान में ग्रामीण क्षेत्रों में संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी और शहरी क्षेत्रों में संबंधित अंचल अधिकारी द्वारा मतदान केंद्र के स्तर पर एक-एक दल का गठन किया गया है। जिसमें बीएलओ, आंगनबाड़ी सेविका, आंगनवाड़ी सहायिका को रखा गया है। दल द्वारा संबंधित केंद्रों की मतदाता सूची एवं उस क्षेत्र से संबंधित सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के लाभुकों की सूची तथा विभिन्न योजनाओं के लिए लाभुकों की पात्रता से संबंधित विवरण उपलब्ध कराया जाएगा।

इसके बाद बीएलओ, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका का दल मतदाता सूची एवं विभिन्न सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के लाभुकों की सूची का विश्लेषण करते हुए घर घर जाकर सर्वेक्षण करेंगे तथा विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के लाभ से वंचित योग्य लाभुकों के संबंध में आवश्यक जानकारी प्राप्त करेगी।

सर्वे के दौरान वैसे योग्य व्यक्ति जिन्हें सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल रहा है, को तत्काल पेंशन के लिए आवेदन प्रपत्र उपलब्ध कराया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र में प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा शहरी क्षेत्र में अंचल अधिकारी छुटे हुए सभी योग्य लाभुकों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं की स्वीकृति प्रदान करेंगे।

राज्य सर्वजन पेंशन योजना में वैसे आवेदक जिसमें आवेदक स्वयं या पत्नी/पति केंद्र एवं राज्य सरकार अथवा केंद्रीय या राज्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में स्थाई रूप से नियोजित या सेवानिवृत्त हो और पेंशन या पारिवारिक पेंशन प्राप्त करने वाला हो तथा आयकर अदा करने वाला परिवार हो, को इस योजना के अंतर्गत लाभ नहीं दिया जाएगा।

जिले में वृद्धजनों की अनुमानित संख्या 1,42,045 को लक्ष्य मानते हुए तथा उन्हें राज्य सर्वजन पेंशन योजना का लाभ प्रदान करने के लिए अंचल अधिकारियों एवं प्रखंड विकास पदाधिकारियों को लक्ष्य दिया गया है।

इस प्रकार दिया गया है लक्ष्य

अंचल अधिकारी बाघमारा को 5778, पुटकी 9941, गोविंदपुर 1288, धनबाद 19614, झरिया 23996, बलियापुर 883, एगारकुंड 2408, *प्रखंड विकास पदाधिकारी* धनबाद सदर 3116, बाघमारा 17689, तोपचांची 8643, गोविंदपुर 13001, बलियापुर 7456, टुंडी 5398, पूर्वी टुंडी 2988, निरसा 7769, एगारकुंड 6099 तथा प्रखंड विकास पदाधिकारी कलियासोल को 5968 योग्य लाभुकों को योजना से लाभान्वित करने का लक्ष्य दिया गया है।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.