December 1, 2021

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

कम मतदान प्रतिशत वाले केन्द्र के एक-एक मतदाता का किया जाएगा सत्यापन : युवाओं को वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कराने के लिए चलाया जाएगा जागरूकता अभियान

1 min read

केंद्रों की गहनता से समीक्षा करने के सीईओ ने दिये निर्देश

बीएलओ, सुपरवाइजर के साथ बैठक कर सभी एईआरओ समस्याओं का करे त्वरित निष्पादन – उपायुक्त

फर्जी ईपिक कार्ड की होगी जांच

स्पीड पोस्ट से आवेदक के पते पर भेजा जाएगा ईपिक कार्ड

मिरर मीडिया : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी-सह-सचिव, मंत्रिमंडल (निर्वाचन) विभाग, झारखंड, रांची के. रवि कुमार ने आज संध्या सर्किट हाउस में उपायुक्त सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी, सभी निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी, सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में कम मतदान प्रतिशत वाले मतदान केंद्रों की गहनता से समीक्षा करने को कहा। साथ ही फर्जी एपिक कार्ड की जांच करने के लिए सभी पीडीएस दुकानदारों को लाभुकों का एपिक कार्ड वोटर हेल्पलाइन एप में डालकर उसे सत्यापित करने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा अब नए एपिक कार्ड स्पीड पोस्ट से आवेदक के पते पर भेजा जाएगा। सीईओ ने सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारियों को बीएलओ के साथ बैठक कर जितने भी फोर्म आए हैं उसकी त्वरित एंट्री करने, शिफ्ट हो गए या मृत मतदाता का नाम डिलीट करने, जिन मतदाताओं के ईपिक कार्ड में खराब गुणवत्ता वाले फोटो लगे हैं, उसकी जांच कर प्रपत्र 7 में नए रंगीन फोटो के साथ आवेदन स्वीकार करने का निर्देश दिया।

युवाओं को वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कराने के लिए सभी स्कूलों में विशेष जागरूकता अभियान चलाने तथा जहां जेंडर रेशियो कम है वहां विशेष फोकस करने का निर्देश दिया।

कम मतदान प्रतिशत वाले केन्द्र के एक-एक मतदाता का किया जाएगा सत्यापन

समीक्षा के दौरान डीएवी कोयला नगर सहित वैसे सभी मतदान केंद्र, जहां चुनाव के समय कम प्रतिशत में मतदान होता है, वैसे मतदान केंद्रों को चिन्हित कर एक-एक मतदाता का सत्यापन किया जाएगा। सीईओ ने कहा ऐसा भी हो सकता है कि मतदाता यहां से कहीं और शिफ्ट कर गए हो और उन्होंने अपना नाम डिलीट नहीं कराया। इसलिए प्रत्येक विधानसभा में ऐसे मतदान केंद्रों को चिन्हित कर एक-एक मतदाता का सत्यापन करना आवश्यक है। ऐसे मतदान केंद्रों पर विशेष कैंप लगाकर लोगों को वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त ने कहा कि सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी बीएलओ तथा सुपरवाइजर के साथ बैठक कर सभी समस्याओं का त्वरित निष्पादन करें। अभियान चलाकर हर परिवार से एक व्यक्ति को वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कराने के लिए प्रेरित करें। अपने-अपने विधानसभा में सबसे कम मतदान होने वाले केंद्रों को चिन्हित कर उसकी समीक्षा करे। बैठक से पूर्व सीईओ ने सिंदरी विधानसभा के बूथ नंबर 416, 420, 421 का भ्रमण किया।

बैठक में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी-सह-सचिव, मंत्रिमंडल (निर्वाचन) विभाग, झारखंड, रांची के. रवि कुमार, उपायुक्त सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी संदीप सिंह, एडीएम लॉ एंड ऑर्डर डॉ कुमार ताराचंद, निदेशक डीआरडीए मुमताज अली, डीसीएलआर सतीश चंद्रा, अनुमंडल पदाधिकारी प्रेम कुमार तिवारी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी भोगेंद्र ठाकुर, उप निर्वाचन पदाधिकारी मृत्युंजय पांडे, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी अंचल अधिकारी शामिल थे।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *