December 7, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

डीएवी स्कूल में बीपीएल कोटे में फर्जीवाड़ा का आरोप के बाद झारखंड अभिभावक महासंघ के महासचिव को डीएसई ने किया शो कॉज, गोपनीयता भंग के आरोप, प्राथमिकी की चेतावनी

1 min read

गोपनीयता भंग करने का आरोप लगाते हुए माँगा स्पष्टीकरण नहीं तो संगत धाराओं के तहत दर्ज की जाएगी प्राथमिकी

मिरर मीडिया : झारखंड अभिभावक महासंघ के महासचिव मनोज मिश्रा ने डीएसई को पत्र लिखकर डीएवी कोयला नगर द्वारा बीपीएल कोटे में फर्जीवाड़ा का आरोप लगाया था पर अब उल्टा महासचिव मनोज मिश्रा ही इस मामले में फंस गए हैं। दरअसल मनोज मिश्रा ने डीएसई को पत्र में लिखा था कि डीएवी कोयला नगर में यूकेजी में कुल बच्चे 435 हैं। इनमें सामान्य वर्ग में 120, बीसीसीएल 283 तथा बीपीएल कोटे में छात्रों की संख्या 32 है, जबकि कुल छात्र संख्या का 25 प्रतिशत बीपीएल कोटे से होना चाहिए। उन्‍होंने कहा था कि प्राप्त आंकड़ों से स्पष्ट होता है कि डीएवी पब्लिक स्कूल, कोयला नगर, द्वारा गलत जानकारी देकर फर्जीवाड़ा किया गया है।

मिश्रा ने मांग रखी थी कि प्राप्त दस्तावेज की समीक्षा कर आरटीई प्रावधानों के तहत कमजोर एवं अभिवंचित वर्ग के कोटे के बच्चों का नामांकन सुनिश्चित किया जाए। हालांकि उपरोक्त आंकड़े प्राप्त करने में उन पर कार्यालय की गोपनीयता भंग करने का आरोप लग गया।

वहीं जिले के डीएसई भूतनाथ रजवार ने उनसे स्पष्टीकरण मांगते हुए मनोज मिश्रा को जारी पत्र में कहा है कि कार्यालय को दिए गए पत्र के अवलोकन से स्पष्ट होता है कि आपके द्वारा यह पत्र गलत ढंग से प्राप्त किया गया है। यह कार्यालय की गोपनीयता को भंग करने तथा परेशान करने की मंशा को प्रमाणित करता है। इस पर आप स्पष्टीकरण दें। स्पष्टीकरण प्राप्त नहीं होने की स्थिति में यह समझा जाएगा कि कार्यालय के अभिलेखों को अनधिकृत रूप से छेड़छाड़ कर प्राप्त किया गया है। इसके लिए आपके विरुद्ध संगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

इसके इतर डीएवी कोयला नगर के प्राचार्य ने सही जानकारी देने का हवाला देते हुए कहा कि जितने छात्रों का नामांकन हुआ है, उसकी जानकारी विभाग को दी गई है।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed