June 28, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

अग्निपथ योजना के विरोध में बंदी का असर जमशेदपुर में रहा मिलाजुला

1 min read

जमशेदपुर।केन्द्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में विभिन्न् संगठनों द्वारा आहूत भारत बंद जमशेदपुर एवं आस पास के क्षेत्रों में बेअसर रहा। सुबह 7 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक सड़कों पर राहगीरों की संख्या कम दिखी। हालांकि शाम 5 बजे के बाद जनजीवन आम दिनो की तरह समान्य रही। आम दिने का तरह ही बाजार एवं सभी कार्यालय खुले रहे। उपद्रवियों को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता के पुख्ता इंतजाम किए गए है। चौक चौराहों पर पुलिस बल तैनात किए गए है। हालांकि किसा संगठन द्वारा बंद को लेकर विरोध प्रदर्शन नही किया गया. जनजीवन आम दिनों की तरह समान्य रही.उपद्रवियों को देखते हुए रेलवे संपति की सुरक्षा के मद्देनजर रेलवे स्टेशन एवं आसपास के क्षेत्रों में पुलिस बल की विशेष तैनाती की गई। वही बंदी के दौरान सरकारी स्कूल सहित प्राइवेट स्कूल बंद रहे कॉलेजेस खुली रही लेकिन बंद समर्थकों ने जाकर कॉलेजों को बंद करवाया।भारत बंद को देखते हुए एहतियात के तौर पर सरकारी एवं निजी स्कूल और कॉलेज को बंद रखने का निर्देश प्रशासन द्वारा जारी किया गया था। इस दौरान नौ सुपर जोनल दंडाधिकारी रहेंगे तैनात भारत बंद को देखते हुए उपायुक्त ने वरीय प्रशासनिक पदाधिकारियों को सुपर जोनल दंडाधिकारी के रुप में प्रतिनियुक्त किया है। जो संवेदनशील जगहों पर मौजूद रहकर विधि व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करेंगे। घाटशिला अनुमंडल क्षेत्र के लिए एसडीओ सत्यवीर रजक, जादूगोड़ा, पोटका एवं कोवाली थाना क्षेत्र के लिए जिला उद्यान पदाधिकारी मिथिलेश कालिंदी, मुसाबनी, डूमरिया एवं गुड़ाबांधा थाना क्षेत्र के लिए कार्यपालक दंडाधिकारी जयप्रकाश करमाली को प्रतिनियुक्त किया गया।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.