Homeराज्यJamshedpur Newsवोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लिए व्यापारियों के सहयोग की पेशकश पर कैट...

वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लिए व्यापारियों के सहयोग की पेशकश पर कैट ने भेजा मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र

जमशेदपुर : लोकतांत्रिक प्रक्रिया में मज़बूती के साथ लोगों की हिस्सेदारी को लेकर कनफ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने आज मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार को एक पत्र भेजकर झारखण्ड सहित देश भर के व्यापारी संगठनों के सक्रिय सहयोग द्वारा आगामी लोकसभा चुनावों में वोटिंग प्रतिशत को बढ़ाने में सहयोग देने की पेशकश की है।

झारखण्ड में लगभग 500 तथा देश भर में लगभग 48 हज़ार से ज़्यादा व्यापारी संगठन कार्य कर रहे हैं, जो देश भर में लगभग 9 करोड़ से अधिक व्यापारियों का प्रतिनिधित्व करते हैं और देश के घरेलू व्यापार से लगभग 25 करोड़ लोग प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से रोज़गार पाते हैं। इस बड़े नेटवर्क की पहुँच देश के कोने-कोने में गली मोहल्ले तक है।

कैट के राष्ट्रीय सचिव सुरेश सोन्थालिया ने राजीव कुमार को भेजे पत्र में कहा देश भर में फैला व्यापारिक समुदाय देश की सामाजिक-आर्थिक संरचना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और इस दृष्टि से व्यापारी लोकतांत्रिक प्रक्रिया में सक्रिय भागीदारी के महत्व को समझते हैं और इसी वजह से कैट ने चुनाव आयोग को व्यापारियों के सहयोग का प्रस्ताव दिया है।

सोन्थालिया ने कहा कि मजबूत वोटर उत्तरदायित्व हमारे लोकतंत्र की ताकत और जीवंतता के लिए आवश्यक है। इसलिए कैट भारतीय चुनाव आयोग के साथ मिलकर चुनावों में निरंतर भागीदारी बढ़ाने और चुनावी प्रक्रिया में अधिक से अधिक लोग भाग लें, इसे बढ़ावा देने के अपने प्रयास करने की पेशकश कर रहा है।

कैट ने कहा कि देश भर में व्यापारी समुदाय का एक व्यापक नेटवर्क और प्रभाव है जो देश के सभी राज्यों में फैला हुआ है। यह सर्वविदित है कि देश के 140 करोड़ लोगों की ज़रूरतों का प्रथम संपर्क व्यापारियों की दुकानें ही हैं और इस नाते से देश के 9 करोड़ से अधिक व्यापारियों का सीधा संपर्क देश के हर राज्य में प्रत्येक व्यक्ति से होता है तथा व्यापारियों और ग्राहकों के बीच अच्छे संबंध होने की वजह से उनके द्वारा प्रोत्साहित किए गए किसी भी अभियान का व्यापक असर होता है। इस बड़े नेटवर्क का लाभ उठाते हुए कैट चुनाव आयोग के सहयोग से जनता को जागरूक करने, सूचनात्मक सामग्री प्रसारित करने और उन्हें उनके मतदान का अधिकार प्रयोग करने के लिए प्रेरित करने की मंशा रखती है जिसके कारण ही चुनाव आयोग को पत्र भेजा गया है।

कैट झारखण्ड के मुख्य संगरक्षक प्रभात शर्मा ने कहा कि चुनाव आयोग के साथ हाथ मिलाकर कैट व्यापारियों और सभी समुदाय के बीच नागरिक जिम्मेदारी और भागीदारी की संस्कृति को विकसित कर सकते हैं और आगामी लोकसभा चुनावों में अधिक से अधिक जन-भागीदारी को सुनिश्चित कर सकते हैं तथा चुनाव आयोग के वोटिंग प्रतिशत में वृद्धि करने के प्रयासों को गति दे सकते हैं।

कैट झारखण्ड के संगरक्षक भरत वसानी ने कहा कि आने वाले चुनावों में वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लक्ष्य को हासिल करने के लिए संभावित रणनीतियों और पहलों पर कैट चुनाव आयोग से चर्चा करने के लिए उत्सुक हैं। ताकि आयोग के साथ मिलकर कैट वोटरों को मतदान के प्रति जागरूक कर सके तथा उन्हें बता सकें कि लोकतंत्र में मतदान करना एक अत्यंत आवश्यक कर्तव्य है जिससे लोकतंत्र की जड़ें देश में और अधिक मज़बूत होती हैं।

Most Popular