June 28, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

धनबाद के न्यायिक पदाधिकारी, अधिवक्ता विधि लिपिक एवं सिविल कोर्ट कर्मचारियों ने स्वस्थ रहने के लिए एक साथ किया योग

1 min read

सिविल कोर्ट में योग प्राणायाम – बार एसोसिएशन में सैकड़ों अधिवक्ताओं ने स्वस्थ रहने के लिए एक साथ किया योग

स्वस्थ और खुशहाल बनने के लिए योग काफी असरदार : न्यायाधीश

आज पूरी दुनिया योग की ताकत को मानती है: बार अध्यक्ष

मिरर मीडिया : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर लोगों को योग के प्रति जागरूक बनाने के लिए धनबाद के तमाम न्यायिक पदाधिकारी अधिवक्ता विधि लिपिक एवं सिविल कोर्ट कर्मचारियों ने योगा किया । सिविल कोर्ट में योग प्राणायाम का कार्यक्रम सुबह 7:00 बजे से शुरू हुआ जो 8:00 बजे तक चला इस दौरान योगा शिक्षक ने योग के विभिन्न मुद्राओं को लोगों को बताया।

स्वस्थ और खुशहाल बनने के लिए योग काफी असरदार
योग भारतीय संस्कृति का अहम हिस्सा है जिसे सदियों से कई बीमारियों का उपचार करने के लिए किया जा रहा है। भारत के साथ ही आज पूरी दुनिया योग की ताकत को समझ गई है। योग हमारी संस्कृति और जड़ों से जुड़ा हुआ है. इसलिए स्वस्थ और खुशहाल बनने के लिए योग काफी असरदार होता है । उपरोक्त बातें मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर धनबाद के प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश राम शर्मा ने कही।

अवर न्यायाधीश सह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकार निताशा बारला ने कहा कि इस बार योग दिवस की थीम ‘मानवता के लिए योग रखी गई है । यह थीम दुनिया पर कोरोना के असर को देखते हुए रखी गई । कोरोना के चलते लोगों को चिंता, अवसाद जैसी मनोवैज्ञानिक और मानसिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ा. जो  इस समय मानवता के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। उन्होंने बताया कि इस बार सभी विधिक सहायता केंद्र में भी डालसा के  पीएलभी,पैनल अधिवक्ताओं के द्वारा योग कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

वहीं बार एसोसिएशन में आयोजित योग कार्यक्रम में सैकड़ों अधिवक्ताओं ने हिस्सा लिया । इस मौके पर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरेंद्र सहाय ने कहा कि भारत के साथ आज पूरी दुनिया योग की ताकत को मानती है  और इसी कारण दुनियां में 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मकसद योग के फायदों के बारे में जागरुकता फैलाना और प्रेरित करना है । वहीं किशन के महासचिव जितेंद्र कुमार ने कहा कि हेल्दी लाइफ के लिए योग करना बेहद जरूरी है। योग शरीर  में ऊर्जा का संचार करता है  प्राणायाम, आसन, योग मुद्राएं करने से शरीर में प्राण वायु का बेहतर संचार होता है। स्वस्थ रहने के लिए योग करना बेहद जरूरी है । इस मौके पर प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश राम शर्मा,  कुटुंब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश टी हसन,जिला एवं सत्र न्यायाधीश रमेश कुमार श्रीवास्तव , स्वयंभू ,प्रेमलता त्रिपाठी, रजनीकांत पाठक ,सुजीत कुमार सिंह , ,एस एन मिश्रा ,प्रभाकर सिंह ,राजकुमार मिश्रा अखिलेश कुमार ,नीरज कुमार विश्वकर्मा, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी संजय कुमार ,अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी कुलदीप , अवर न्यायाधीश   राजीव त्रिपाठी सिविल जज श्वेता कुमारी ,शिवम चौरसिया ,सफदर नायर ,निर्भय प्रकाश ,विशाल माजी, प्रतिमा उराव ,पूनम कुमारी , रजिस्ट्रार एस एस तिर्की,  प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी दिव्या अश्वनी,  एम जीया तारा, अनुष्का जैन, दिव्या राघव, विवेक राज, सुमंत दीक्षित ,जेनिस  मींज, अभिनव त्रिपाठी ,सुभाष बारा, एस उरांव, रेलवे न्यायिक  दंडाधिकारी, अंकित कुमार सिंह ,अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी अभिषेक श्रीवास्तव समेत तमाम अधिवक्ता, कर्मचारी उपस्थित थे ।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.