June 28, 2022

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

बिरसा आवास निर्माण कार्य दो महीने में पूरा करने का सख्त निर्देश

1 min read

जमशेदपुर : जिला उपायुक्त विजया जाधव द्वारा कल्याण विभागीय योजनाओं के अधतन प्रगति की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जिसमें प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति की समीक्षा के क्रम में परियोजना निदेशक, आई.टी.डी.ए द्वारा जानकारी दी गई कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्री-मैट्रिक छात्रवृति योजना में अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति व पिछड़ी जाति कोटि में कुल संभावित लक्ष्य 165667 छात्रों के विरूद्व अबतक कुल-146631 छात्रों का सूची ई-कल्याण पोर्टल में अपलोड किया जा चुका है। 7328 छात्रों के डेटा में त्रृटि है जिससे संबंधित बी.ई.ई.ओ के द्वारा निराकरण किया जा रहा है। 3955 छात्रों का डेटा अबतक अप्राप्त है, इसके लिए संबंधित बी.ई.ई.ओ को एक सप्ताह के अंदर अनिवार्य रूप से डेटा भेजने का निदेश जिला उपायुक्त द्वारा दिया गया।

वित्तीय वर्ष 2021-22 में पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृति योजना अंतर्गत पूर्वी सिंहभूम जिले में कुल-20012 छात्रों के ऑनलाइन आवेदन पत्र को संबंधित संस्थान के द्वारा सत्यापित किया गया है। जिला स्तर से कुल 20012 छात्रों के सत्यापन कर लिया गया है तथा कुल 14654 छात्रों के राशि का भुगतान किया जा चुका है। ग्रामोत्थान व बिरसा आवास निर्माण योजना अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 व 2021-22 में कुल 312 आवास निर्माण की स्वीकृति प्रदान की गई है। दो माह के अंदर सभी आवासों को पूरा कर लेने का निदेश दिया गया।

वित्तीय वर्ष 2020-21 व 2021-22 में स्वीकृत जाहेरस्थान की घेराबंदी व आदिवासी संस्कृति कला केन्द्र निर्माण योजनाओं में कुल 7 योजना पूरी हो गई है और कुल127 योजना प्रगति पर है। 65 योजनाओं का भूमि प्रतिवेदन अप्राप्त है। जिससे संबंधित अंचल अधिकारी से अविलंब प्राप्त कर योजनाओं का कार्यान्वयन करने का निदेश दिया गया है।पशुधन विकास योजना अंतर्गत जानकारी दी गई कि 14 दिसंबर 2021 को जिला स्तरीय बैठक आयोजित कर कुल लक्ष्य 1520 के विरूद्व कुल 1165 लाभुकों को स्वीकृति प्रदान की गई है। स्वीकृत लाभुकों को मनरेगा के द्वारा शेड निर्माण कार्य किया जा रहा है। जिला उपायुक्त द्वारा अविलंब शेड निर्माण कार्य पूरा कराने का निदेश दिया गया है।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.