June 9, 2023

Mirrormedia

Jharkhand no.1 hindi news provider

निरसा के भुरकुंडाबाड़ी गांव में प्रतिबंधित मांस पर बवाल के बाद किसी भी अफवाहों से बचने की जिला प्रशासन ने की अपील : फिलहाल धारा 144 लागू

1 min read

मिरर मीडिया : धनबाद में रामनवमी के मौके पर धार्मिक सदभाव बिगाड़ने की कोशिश में जमकर बवाल हुआ। गुरुवार की सुबह निरसा थाना क्षेत्र अंतर्गत भुरकुंडाबाड़ी ग्राम में अचानक अफरा-तफरी हो हल्ला शुरू हो गया जब गांव में ही बसे दुसरे समुदाय के घर में गौकशी कर बीफ बेचने को लेकर जमकर बवाल हुआ। सुबह से शुरू बवाल देर शाम तक चलता रहा स्थिति को नियंत्रण करने के लिए पुलिस ने ग्रामीणों पर लाठीचार्ज भी किया इससे लोग भड़क गए और पुलिस पर पथराव कर उनके तीन वाहन पलट दिए।

रामनवमी के मौके पर धार्मिक भावनाएं आहत हुई जिसके बाद एकजुट होकर भीड़ ने तत्काल आरोपी मसुरूदीन अंसारी के घर पर धावा बोल दिया । देखते ही देखते मामला आग की तरह गांव में फैला और रामनवमी का दिन होने से यह एक बड़ा मुद्दा बन गया । पूरा गांव तथा आसपास के  कई युवक घटनास्थल पर पहुंचे और जमकर हो हल्ला मचा और आरोपी के घर पर तोड़फोड़ की गई। 

स्थिति की संवेदनशीलता को देखते हुए मजिस्ट्रेट व पुलिस बल तैनात किया गया और पूरे गांव में धारा 144 लागू कर दी गई। वहीं ग्रामीण की शिकायत पर मसरुद्दीन एवम सहाबुदीन अंसारी सहित 8 अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज की गई।

सुबह गांव वालों को पता चला कि मसरुदीन के घर गोकशी हुई है इस बीच प्रतिबंधित मांस बेचने के लिए मसरुदीन व उसके साथी जाकिर अंसारी व छोटू निकल गए थे कुछ मांस मसरूद्दीन के घर पर रखा हुआ था एक बोरी में सर था ग्रामीण उसके घर पहुंचे तो नाली में खून व गाय का सर दिखा जिससे ग्रामीण भड़क गए और मसरुद्दीन के पुत्र शहाबुद्दीन को पकड़कर पेड़ से बांधकर पीटने लगे।

नाराज ग्रामीणों का कहना था कि मसरुद्दीन दिखावे के लिए मजदूरी करता है इसका वास्तविक कारोबार प्रतिबंधित मांस बेचना है ग्रामीण एक स्वर से उस आरोपी के पूरे घर को यहां से हटाने की बात कर रहे थें।

हालांकि मामला बड़ा होता देख निरसा थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक दिलीप कुमार सहित  निरसा एसडीपीओ पितांबर खेरवार भी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे। बाद में घटनास्थल पर पहुंची ग्रामीण एसपी रिष्मा रमेशन, विधायक अपर्णा सेनगुप्ता ने ग्रामीणों से वार्ता की और गोकशी के लिए दोषियों पर उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया तब जाकर लोगों का गुस्सा शांत हुआ। फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और घटनास्थल पर पुलिस कैंप कर रही है। वही पूरे क्षेत्र में धारा 144 लगा दी गई है।

इधर निरसा की घटना के बाद इंटरनेट मीडिया पर आ रही खबरों और वीडियो पर धनवाद जिला प्रशासन चौकन्ना हो गई है जिला प्रशासन व सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग की ओर से रात में ही बकायदा बयान जारी किया गया इसमें कहा गया कि ऐसे वीडियो ना वायरल करें जिसमें संप्रदायिक सद्भाव को खतरा हो। संप्रदायिक सद्भाव को खतरा पहुंचाने वाले तथ्य विभिन्न विवरण साझा किए जा रहे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया इस दौरान भीड़ से पुलिस की नोक झोंक हुई है मगर किसी को भी चोट नहीं आई है केवल पुलिस की 2 गाड़ियां को मामूली क्षति हुई है अगले आदेश तक भुरकुंडाबाड़ी गांव में धारा 144 लगाने के साथ मजिस्ट्रेट व पुलिस की तैनाती कर दी गई है क्षेत्र में स्थिति शांतिपूर्ण है अफवाहों से बचें।

Share this news with your family and friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.