HomeधनबादDhanbad -अंचल कार्यालयों में बढ़ी परेशानी : Mutation म्यूटेशन के लिए लगाने...

Dhanbad -अंचल कार्यालयों में बढ़ी परेशानी : Mutation म्यूटेशन के लिए लगाने पड़ रहे हैं चक्कर, धनबाद गोविंदपुर में सबसे ज्यादा लंबित मामले

Dhanbad में अगर जमीन Land की दाखिल ख़ारिज Mutation करानी हो तो जेब में पैसा और समय दोनों रखना होगा क्यूंकि आपको अंचल कार्यालय का चक्कर लगाने के लिए पैसा और समय दोनों चाहिए होगा। सीधे लफ्जों में कहें तों आलम ये है कि जमीन Land खरीदने वाले को दाखिल ख़ारिज Mutation कराने में पसीने छूट रहें है। ऐसा इसलिए कि Dhanbad जिले में ऑनलाइन दाखिल ख़ारिज Mutation के आवेदन करने के बाद भी सम्बंधित अंचल कार्यालय में महीनों चक्कर लगाना पड़ रहा है।

Mutation कराने को लेकर अंचल कार्यालय के कर्मचारी और अधिकारी की मनमानी

दाखिल ख़ारिज Mutation कराने को लेकर अंचल कार्यालय के कर्मचारी और अधिकारी की मनमानी अब सर चढ़ कर बोल रहा है। आलम ये है कि सरकार के द्वारा दिये गए सख्त निर्देश के बावजूद Dhanbad जिले के विभिन्न अंचल कार्यालय में अभीतक दाखिल ख़ारिज Mutation के कई मामले लंबित पड़े हैं। यानी यह कहना अतिश्योक्ति नहीं है कि आदेश को ताक पर रखकर अंचल कार्यालय के अधिकारी और कर्मचारी काम कर रहें हैं।

Dhanbad जिले के गोविंदपुर और धनबाद में सबसे अधिक Mutation के लंबित मामले

Mutation in Dhanbad - गोविंदपुर अंचल कार्यालय
Mutation in Dhanbad – गोविंदपुर अंचल कार्यालय

अगर Dhanbad जिले अंतर्गत अंचल कार्यालय पर नजर डाले तो Mutation के सबसे अधिक लंबित मामले गोविंदपुर अंचल के हैं जहाँ कुल 2950 मामले है जिसमें 677 मामले 30 दिनों से लंबित पड़े है जबकि 271 ऐसे मामले हैं जो 90 दिन यानी 3 महीने से ज्यादा से पड़े हुए हैं। वहीं दूसरे नंबर पर Dhanbad अंचल कार्यालय है जहाँ कुल 1477 मामले लंबित हैं जिसमें 797 मामले 30 दिनों से और 49 मामले 90 दिनों से लंबित पड़े हैं। इसी तरह बाघमारा में 751 कलियासोल में 608, तोपचांची में 536, निरसा में 510, बलियापुर में 426, एग्यारकुण्ड में 397, पूर्वी टुंडी में 141, टुंडी में 133, झरिया में 51, और पुटकी में 15 मामले लंबित पड़े हैं।

ऑनलाइन आवेदन के बावजूद अंचल कार्यालय में बिना सेटिंग नहीं होता Mutation का काम

दाखिल ख़ारिज Mutation रोके जाने के पीछे का कारण जगजाहिर है। पैसे के खेल के बिना मेल संभव ही नहीं है। भले ही Dhanbad जिले में किसी भी जगह से ऑनलाइन आवेदन कर दिया गया हो लेकिन आप सम्बंधित अंचल कार्यालय में चढ़ावा चढ़ाए बिना अपना Mutation नहीं करा सकते हैं। आपके दाखिल ख़ारिज का काम वहाँ के कर्मी, ऑपरेटर और अधिकारी ही तय करेंगे कि कितने दिन और कैसे होगा। बस आपको अपनी जेब ढीली और उनकी जेब गर्म करनी पड़ेगी। यानी आपको अपने जमीन Land की दाखिल ख़ारिज Mutation कराना है तों राशि की मात्रा तय कर दीजिये  फिर देखिये आपकी फ़ाइल कैसे आगे बढ़ती है।

Mutation के लिए 10 हजार से 1 लाख तक की राशि पर होता है काम

Mutation को लेकर कोई फिक्स राशि का भुगतान नहीं करना पड़ता है यहाँ 10 हजार से 1 लाख तक की राशि देने पर काम किया जाता है। आपको बता दें कि कई ऐसे भी लोग हैं जो 90 दिन से अधिक करीब एक साल से Mutation दाखिल ख़ारिज के लिए अंचल कार्यालय का चक्कर लगा रहें हैं पर काम अभी तक नहीं किया गया। क्यूंकि यहाँ चढ़ावा नहीं चढ़ाया गया।

Dhanbad के गोविंदपुर अंचल कार्यालय में निबंधक नहीं होने से बढ़ी परेशानी

इधर Dhanbad जिले के गोविंदपुर अंचल कार्यालय में निबंधक नहीं होने से और भी परेशानी बढ़ गई है। बता दें कि गोविंदपुर के निबंधक संतोष कुमार रजक का स्थानांतरण रांची कर दिया गया और उनकी जगह Dhanbad रजिस्ट्री कार्यालय के निबंधक रामजी तिग्गा को पदभार सौंपा गया। पहले तों दो घंटे के लिए प्रत्येक दिन गोविंदपुर कार्यालय पहुँचकर कार्य करते थें पर अब प्रतिदिन नहीं आने से परेशानी और बढ़ गई।

निबंधक रामजी तिग्गा सप्ताह में गुरुवार और शनिवार को गोविंदपुर अंचल कार्यालय आकर जमीन की खरीद बिक्री का निबंधन करेंगे। अब ऐसे में गोविंदपुर कार्यालय में अन्य दिनों में एक भी रजिस्ट्री नहीं हो पाई। फिलहाल टुंडी प्रखंड कार्यालय के प्रधान सहायक अब्दुल मतीन अंसारी की प्रतिनियुक्ति गोविंदपुर रजिस्ट्री कार्यालय में की गई और 20 मार्च से रजिस्ट्री से सम्बंधित कार्य शुरू हुआ।

Mutation के लंबित मामले को जल्द निपटाने के Jharkhand के मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन ने दिये थें निर्देश -Dhanbad

गौरतलब है कि Jharkhand झारखंड के मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन ने विगत 16 फ़रवरी कोराजस्व निबन्ध एवं भूमि सुधार विभाग को सख्त निर्देश दिया था कि दाखिल ख़ारिज Mutation के जितने भी लंबित मामले हैं उनका जल्द से जल्द निपटारा किया जाए। लेकिन इतने दिनों और निर्देश के बावजूद आज भी स्थिति बदली नहीं है।

KK Sagar
KK Sagar
उत्कृष्ट लेखनी के लिए निष्पक्षता, पारदर्शिता और ईमानदारी का होना बेहद जरुरी है। और यहीं कई वर्षो का अनुभव मुझे मेरे पत्रकारिता में लेखनी को आकर्षक बनाता है। आप पाठकों का प्यार मुझे ऐसे ही आगे बढ़ने की प्रेरणा देता रहें और आगे भी मैं ऐसे ही लिखता रहूं। k k sagar....✍️....

Most Popular